Search This Website

Monday, September 11, 2017

दुनिया की ऐसी खतरनाक जगहें जहाँ जाने से पुलिस को भी लगता है डर

दुनिया की ऐसी खतरनाक जगहें जहाँ जाने से पुलिस को भी लगता है डर


दुनिया में बहुत सी ऐसी जगहें हैं जहाँ जाना हमारे लिए बहुत ही सेफ है. जबकि कई ऐसी जगहें भी मौजूद है जहाँ जाना हर किसी के बस की बात नहीं है. ये ऐसी जगह है जिन्हें दुनिया की सबसे खतरनाक जगह भी माना जाता है. कहा जाता है कि आम इंसान तो क्या यहाँ पुलिस भी जाने से डरती है. तो आइये जानते हैं कौनसी है ये जगहें जहाँ जाना किसी खतरे को दावत देने से कम नहीं है. इनमें से कुछ जगहें सालों से एक ही हालात में है तो कइयो कि हालत बहुत ख़राब हो गई है. इसके चलते इस No Go zone भी कहा जाता है.











ब्राजील के फेविला (स्लम बस्ती) को नो गो जोन कहा जाता है। ये क्षेत्र पूरी दुनिया में क्राइम के कारण फेमस है। यहां किसी प्रकार के कानून नहीं चलते हैं। इन क्षेत्रों में गैंगस्टर और ड्रग माफिया का राज चलता है। यहाँ कोई भी आने की कोशिश भी नहीं करता।हालांकि, यहां की कुछ स्लम बस्तियां पुलिस की निगरानी में सुरक्षित रहती हैं।









बर्मिंघम - बर्मिंघम मिडिल ईस्ट के बाहर सबसे ज्यादा मुस्लिम आबादी वाला शहर है। यहां पुलिस पैट्रोलिंग के लिए आने से डरती है। यहां आए दिन हिंसा की खबरें आती रहती हैं। दुइसबर्ग - जर्मनी के शहर डुइशबर्ग में कहीं कोई कानून नहीं है।जल्द ही इस शहर में पब्लिक ऑर्डर खत्म हो जाएगा











जेलसेनकिरचेन - जर्मनी का ये दूसरा शहर है। यहां कुछ दिन पहले पुलिस ने दो लोगों को पकड़ लिया था। थोड़ी दूर जाते ही पुलिसवालो को 100 लोगों ने घेर लिया। पुलिस फोर्स को बुलाने के बाद स्थित कंट्रोल में आई।








रॉबेक्स - यहां किसी भी तरह का नियम या कानून बिना मारपीट-तोड़फोड़ के लागू नहीं किया जा सकता। गया आइलैंड - पॉपुलर टूरिस्ट प्लेस होने के साथ ही यह पुलिस के लिए no go zones है। यहां ज्यादातर लोग अवैध रूप से रहते हैं। यहां पुलिस एंट्री नहीं करती। यहां बहुत क्राइम होता है।








लंदन टॉवर हेमलेट्स - लंदन के टॉवर हेमलेट्स में मुस्लिम पॉपुलेशन पाई जाती है। ये लोग यहां पर शरिया कानून लागू करना चाहते हैं। महिलाएं जो उनके अनुसार ड्रेस पहनने से मना करती हैं उन्हें मौत के घाट उतार दिया जाता है।








मोलेनबीक - मोलेनबीक ब्रूसेल का सबसे खराब एरिया है। यहां पुलिस घुसने से डरती है। सरकार भी यहां के लोगों के लिए कोई सुविधा नहीं देती। यहां न तो कोई स्कूल है न ही काम करने के लिए कोई जगह।










परपिगनान - इसे फ्रांस की मिनी मुस्लिम कंट्री कहा जाता है। यहां ड्रग डीलिंग, नस्लवाद, आदिवासी हिंसा होना आम बात है।









वॉल्समॉसे - वॉल्समॉसे डेनमार्क की तीसरी बड़ी सिटी जहां पुलिस नहीं जाती। यहां अधिक संख्या में अप्रवासी लोग पाए जाते हैं। यहां क्राइम रेट बहुत ज्यादा है। यहां लोगों के पास रोजगार भी नहीं है।










No comments:

Post a Comment