Search This Website

Thursday, October 12, 2017

इस कारण से अब नहीं होगा रिलायंस और एयरसेल का विलय

 इस कारण से अब नहीं होगा रिलायंस और एयरसेल का विलय


दूरसंचार कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशंस और एयरसेल ने मोबाइल कारोबार के विलय को लेकर समझौता रद्द कर दिया है.












रिलायंस कम्युनिकेशंस ने एक रिलीज़ में कहा कि आरकॉम और एयरसेल के 






मोबाइल कारोबार का विलय सौदा आपसी सहमति से निरस्त हो गया है. 












दोनों दूरसंचार कंपनियों ने आर कॉम के मोबाइल कारोबार का एयरसेल 







के साथ विलय को लेकर सितंबर 2016 में बाध्यकारी समझौता किया था.








अनिल अंबानी की अगुवाई वाली कंपनी ने कहा कि कानूनी और नियामकीय अनिश्चितताएं








तथा निहित स्वार्थ के तहत हस्तक्षेप से प्रस्तावित सौदे के लिये जरूरी मंजूरी प्राप्त











करने में काफी देरी हुई.कंपनी के अनुसार भारतीय दूरसंचार क्षेत्र में काफी प्रतिस्पर्धा






के साथ ताजा नीति संबंधी दिशानिर्देश से क्षेत्र के लिये बैंक वित्त पोषण पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा था. 









उक्त कारणों से विलय समझौता निरस्त हो गया है. निदेशक मंडल ने इसकी मंजूरी दे दी है. आर कॉम इस सौदे के बाद कर्ज में उल्लेखनीय कमी आने की उम्मीद कर रही थी.



No comments:

Post a Comment