Search This Website

Monday, October 16, 2017

मुंबई के इस इलाके में नीला हो रहा है कुत्तों का रंग, पीछे है ये खौफनाक वजह

मुंबई के इस इलाके में नीला हो रहा है कुत्तों का रंग, पीछे है ये खौफनाक वजह




दुनिया भर में प्रदूषण को लेकर लोग चिंतित हैं। भारत भी इससे अछूता नहीं है। इन दिनों सोशल साइट्स पर नवी मुंबई के तलोजा इंडस्ट्रियल एरिया में घूम रहे नीले कुत्तों की काफी चर्चा हो रही है। आपको बता दें कि पहले इन कुत्तों का रंग नीला नहीं था। फिर ऐसा क्या हुआ कि इसका रंग नीला हो गया।











तलोजा इंडस्ट्रियल एरिया में पिछले दिनों करीब 5 नीले कुत्ते दिखाई दिए। पहले तो लोग इस बात को लेकर हैरान हो गए कि इन कुत्तों का रंग अचानक नीला क्यों हो गया है?








लेकिन जब सच्चाई का पता किया गया तो सब हैरान रह गए।









दरअसल इस एरिया में करीब एक हजार फैक्ट्रीज मौजूद हैं।








इन सारी फैक्ट्रीज की गंदगी यहां मौजूद कसादी नदी में गिराई जाती है।










पिछले दिनों इस नदी के नजदीक एक नीले रंग का जानवर दिखाई दिया। पता करने पर मालूम चला कि ये कोई एलियन नहीं बल्कि सड़क पर घूमने वाला आवारा कुत्ता है।






खाने की तलाश में ये कसादी नदी में उतर गया। प्रदुषण की वजह से इस नदी का पानी इतना गंदा हो गया है 










कि बाहर निकलने के बाद कुत्ते का रंग नीला हो गया था। मामले की गंभीरता को समझते हुए नवी मुंबई एनिमल प्रोटेक्शन सेल ने एक केस फाइल किया है,








 जिसमें इस गंदी नदी के कारण जानवरों को होने वाली परेशानियों का जिक्र किया गया है।









महाराष्ट्र के पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के अनिल मोहकर ने बताया की नदी में डाई छोड़ना इलीगल है। वैसे तो इस एरिया में कई फैक्ट्रीज हैं, लेकिन शायद डिटर्जेंट फैक्ट्री पानी में डाई छोड़ रहा है। इस कारण कुत्ते का रंग नीला हो गया था। वैसे अभी तक सिर्फ एक ही कुत्ते के रंग बदलने की बात सामने आई है। लेकिन नवी मुंबई एनिमल प्रोटेक्शन सेल बाकी के जानवरों के हित के लिए परेशान हो कर ऐसा दुबारा ना होने की कोशिश में लगा है।



No comments:

Post a Comment