Search This Website

Saturday, November 4, 2017

पाकिस्तान यूं ही नहीं है बदनाम, जाने से पहले एक बार जरूर सोचें

 पाकिस्तान यूं ही नहीं है बदनाम, जाने से पहले एक बार जरूर सोचें



पाकिस्तान की पहचान क्या है। पाकिस्तान दुनिया के सामने ये बताने की कोशिश करता है कि वो अमन पसंद मुल्क है। लेकिन सच ये है कि उसकी पहचान लश्कर, हिजबुल मुजाहिद्दीन, तहरीके तालिबान जैसे संगठनों से है। अगर कोई कहे कि क्या आप अपनी गर्मी की छुट्टियों को इस्लामाबाद या पेशावर में बिताना चाहेंगे तो जवाब ना में ही मिलेगा। इसके पीछे वजह भी है। वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की रिपोर्ट आप के डर पर मुहर भी लगाती है। 













पर्यटकों के लिए असुरक्षित माने जाने वाले 10 शहरों में पाकिस्तान चौथे नंबर पर है। वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की ट्रवेल एंड टूरिज्म कंपीटिटिवेनेस रिपोर्ट ने 136 देशों की तस्वीर दुनिया के सामने रखी पर्यटकों के लिए खतरनाक हैं। रिपोर्ट में 136 देशों में कानून व्यवस्था, सुरक्षा के बारे में विस्तार से बताया गया है। अध्ययन में उन देशों में छोटे स्तर के होने वाले अपराधों को नहीं शामिल किया गया। आतंकी वारदातों, बमबारी, राजनीतिक अस्थिरता को ध्यान में रखकर जो जानकारी मिली उसके मुताबिक 10 ऐसे देश हैं जहां पर पर्यटकों को जाने से बचना चाहिए।  







कोलंबिया-


 कोलंबिया में द फॉर्क गोरिल्ला आंदोलन करीब करीब समाप्त हो चुका है। लेकिन  अभी भी ये देश पूरी तरह सुरक्षित नहीं है। गैंगवार, लूटपाट डकैती, अपहरण, ड्रग की तस्करी आम बात है। बोगोटा जैसे बड़े शहरों में आतंकी वारदातें, बम विस्फोट आम बात हैं। 










यमन-

 यमन में गृह युद्ध किसी से छिपा नहीं है। हाउती विद्रोहियों को निशाना बनाने के लिए सऊदी अरब सेना लगातार बमबारी करती है। इसके अलावा यमन कालरा की महामारी का सामना भी कर रहा है।







अल सल्वाडोर-


 मध्यवर्ती अमेरिका का ये देश पर्यटकों के लिए खतरनाक जगहों में से एक है। नरसंहार के लिए कुख्यात अल सल्वाडोर में हथियारों की तस्करी और ड्रग की तस्करी आम बात है।









पाकिस्तान-


 तहरीके तालिबान और उससे जुड़े आतंकी संगठन पाकिस्तान की पहचान बन चुके हैं। आतंकी हमलों में हजारों की संख्या में पाकिस्तानी नागरिक मारे जा चुके हैं। हालात ये है कि पाक सरकार ने अलग अलग इलाकों में विदेशी नागरिकों के जाने पर प्रतिबंध लगा रखा है।







नाइजीरिया-


 बोको हरम जैसे कुख्यात संगठन की वजह से नाइजीरिया जाना खतरे से खाली नहीं है। यहां किस समय हिंसा भड़क उठे कह पाना मुश्किल होता है। बोको हरम के आतंकी चर्चों, स्कूलों रेस्टोरेंट और मनोरंजन की जगहों को निशाना बनाते हैं।











वेनेजुएला-


 दक्षिण अमेरिका स्थिट इस देश में आर्थिक संकट, खाद्यान्न की कमी की वजह से सामाजिक तनाव चरम पर है।



इजिप्ट-


 इजिप्ट में कई आतंकी संगठन सक्रिय हैं। देश में ईसाई समुदाय अक्सर आइएस के आतंकी हमलों का शिकार बनता है।





केन्या-

 बमबारी और आतंकी हमले इस देश में अक्सर होते ही रहते हैं। 

होंडुरास-

 सेंट्रल अमेरिकी देश होंडुरास में हत्या की दर सर्वाधिक है। 






यूक्रेन-


 सेना और रूस समर्थित अलगाववादियों में लड़ाई की वजह से पर्यटकों के लिए यूक्रेन खतरनाक जगह है। अब तक हजारों लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।



No comments:

Post a Comment