Search This Website

Wednesday, January 10, 2018

कलक्टर ने मकर संक्रांति पर आवश्यक व्यवस्थाओं के लिए दिए निर्देश

 कलक्टर ने मकर संक्रांति पर आवश्यक व्यवस्थाओं के लिए दिए निर्दे




जयपुर। जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट ने जयपुर जिले में मकर संक्रांति पर्व पर आवश्यक प्रशासनिक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के लिए पुलिस, नगर निगम, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सहित सम्बंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश जारी किए है। 














मकर संक्रांति पर जिले में श्रद्धालुगण मंदिरों एवं जलाशयो पर पूजा अर्चना एवं स्नान आदि के लिए जाते है। साथ ही लोग सामूहिक रूप से पतंग भी उड़ाते है। 



                  Open this link :- अब रोज पाये facebook group पर "मेरा देश India" की all (news)









ऐसे में यातायात को सुचारू बनाए रखने के साथ ही दुर्घटना की सम्भावना को रोकने के लिए प्रशासनिक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। 













जयपुर नगर निगम को धार्मिक स्थलों एवं जलाशयों तथा आस-पास के सम्पूर्ण क्षेत्र में आवारा पशुओं पर नियंत्रण एवं साफ-सफाई की व्यवस्था, पुलिस उपायुक्तों एवं पुलिस अधीक्षक (जयपुर-ग्रामीण) को कानून व्यवस्था, 








पुलिस उपायुक्त (यातायात) मुख्य चौराहों एवं संकरी गलियों में भीड़ भाड़ को रोकने एवं यातायात को सुचारू बनाने के लिए अतिरिक्त यातायात पुलिस कर्मियो को तैनात करने सहित अन्य आवश्यक व्यवस्थाओं के लिए निर्देश जारी किए गए है। 










जिले में मकर संक्रांति पर पतंगबाजी से घायल पशु/पक्षियों की चिकित्सा के लिए पांच बत्ती स्थित पॉली क्लिनिक के उप निदेशक को निर्देश दिए गए है 










कि वे अपने अधीन समस्त पशु/पक्षी चिकित्सा अधिकारियों को पाबंद कर यह सुनिश्चित करे की इस प्रकार की किसी सूचना के प्राप्त होने पर वे एनजीओ/हैल्पलाईन से समन्वय रखते हुए चिकित्सा सम्बंधी कार्यवाही अविलम्ब सम्पादित कराए। पशु/पक्षियों की चिकित्सा के लिए मोबाईल टीमों का गठन करने के भी निर्देश दिए गए है। 












उप नियंत्रक, नागरिक सुरक्षा को सभी विभागों से समन्वय रखते हुए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए है। 






इसके अलावा उत्तर पश्चिक रेलवे के अधिकारियों को जयपुर-दिल्ली रेलवे लाईन पर गांधीनगर रेलवे स्टेशन से खातीपुरा तक घनी आबादी क्षेत्र में रेलवे लाईन के आस पास दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए ऐहितियाती उपाय 









करने एवं सम्बंधित क्षेत्र के पुलिस अधिकारियों को इस क्षेत्र में अतिरिक्त जाप्ता लगाकर निगरानी की व्यवस्था के लिए कहा गया है। 





No comments:

Post a Comment