Search This Website

Friday, January 19, 2018

क्यों मनाया जाता हैं गणतंत्र दिवस ,,,,पढ़े अहम तथ्य

क्यों मनाया जाता हैं गणतंत्र दिवस ,,,,पढ़े अहम तथ्य



गणतंत्र दिवस हर भारतवासियों के लिए बहुत मायने रखता है, जिसे हम बेहद ही उत्साह के साथ मनाते हैं।



इसे भी पढ़ें :-     ट्रेड फेयर मेला देखने जा रहे हैं तो अपनी जेब पर नजर रखें











 गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को मनाया जाता है। 26 जनवरी 1950 को भारतीय इतिहास में इसलिए भी महत्वपूर्ण माना जाता है 









क्योंकि भारत का संविधान, इसी दिन अस्तित्व मेें आया था और भारत इस दिन पूर्ण गणतंत्र देश बना। 














संविधान निर्माण की प्रक्रिया में 2 वर्ष, 11 महिना, 18 दिन लगे थे। भारतीय संविधान के वास्तुकार डॉ.भीमराव अम्बेडकर प्रारूप समिति के अध्यक्ष थे। 







भारतीय संविधान के निर्माताओं ने विश्व के अनेक संविधानों के अच्छे लक्षणों को अपने संविधान में आत्मसात करने का प्रयास किया है। 














इस दिन भारत एक सम्पूर्ण गणतांत्रिक देश बन गया था। 








देश को गौरवशाली गणतंत्र राष्ट्र बनाने में जिन देशभक्तों ने अपना बलिदान दिया उन्हें 26 जनवरी के दिन याद किया जाता और उन्हें श्रद्धाजंलि दी जाती है।















कुछ महत्वपूर्ण जानकारी


जनवरी 1950 को 10.18 मिनट पर भारत का संविधान लागू किया गया।

गणतंत्र दिवस की पहली परेड 1955 को दिल्ली के राजपथ पर हुई थी।

भारतीय संविधान की दो प्रत्तियां जो हिन्दी और अंग्रेजी में हाथ से लिखी गई।











पूर्ण स्वराज दिवस (26 जनवरी 1930) को ध्यान में रखते हुए भारतीय संविधान 26 जनवरी को लागू किया गया था।




भारतीय संविधान की हाथ से लिखी मूल प्रतियां संसद भवन के पुस्तकालय में सुरक्षित रखी हुई हैं।






No comments:

Post a Comment